फाइनांस इंडस्ट्री के दो सबसे बड़े नाम विवेक बजाज और रचना रानाडे। कैसे कर्रे इन्वेस्टमेंट ? और कुछ खास टिप्स।

इंडिया के स्टॉक मार्केट में कुछ नामचीन लोग हैं जो आज लोगो को शेयर मार्केट के बारे में बताते हैं और शेयर से संबंधित बोहोत सी चिज्जो में लोगो की मदद कर रहे हैं और निवेश करना भी सिखा रहे हैं. आज उनमे से दो लोगो के बारे में जानेगे और उनके दिए गए कुछ कमाल के टिप्स भी आपको बताएंगे। इस लेख को अंत तक पढिये और सिखिए की कैसे निवेश करते हैं शेयर बाजार में. आज हम जानेनेगे फाइनेंस की दुनिया के सबसे फेमस विवेक बजाज और रचना रानाडे के बारे में 

विवेक बजाज एक ऐसी शख्सियत है जिनके वजेसे आज शेयर मार्किट के बार्रे में सिखने का पुर्रा नजरिया ही बदल चूका है। विवेक बजाज इंडिया के सबसे बड़े स्टॉक मार्किट सॉफ्टवेयर इ-लर्न मार्केट्स के फाउंडर है और स्टॉक एज के को-फाउंडर भी है। विवेक बजाज ने जीरो से शुरवात की थी लेकिन आज वो करोड़ो के मालिक  है।  उनकी कंपनी में कोटक महिंद्रा ने भी इन्वेस्ट किया हुआ है।  विवेक बजाज अपने सॉफ्टवेयर और अपने यूट्यूब की मदद से आज लाखो लोगो को स्टॉक मार्किट के बार्रे में सीखा रहे है. 

वही दसूरी तरफ सीए रचना रानाडे एक भोहोत ही शानदार एंट्रेप्रेनॉर , सीए , और एक अमेजिंग यूटूबेर है , रचना रानाडे के कंटेंट आज हर कोई देखना पसंद करता है क्यू की वो बोहोत ही आसानी से सिखाती है। रचना रानाडे आज एक सक्सेसफुल  एंट्रेप्रेनॉर है  

स्टॉक सेवा और मीडिया टर्मिनल को एक इंटरव्यू के दौरान विवेक बजाज और रचना रानाडे ने कुछ टिप्स शेयर की जिनसे आप भी बन सकते है क्रोरेपति अय्यिये जन्नते हे उन्हें। 

(१) जितनी चादर उतना ही पेअर फैलाये । विवेक बजाज ने stock seva ke इंटरवे में बताया की आपके पास जितनी कैपेसिटी है उतना ही पैसा स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट कर्रे।  कई लोग  है की लोन लेकर पैसा स्टॉक मए डालते है जिससे उन्हें काफी नुक्सान होजाता है (२) वही रचना रानाडे का मन्ना है एक्सपर्ट ओपिनिय ज़ादा नाह मांगे नाह ले । कई लोगो की आददात  होती है की हर बार एक्सपर्ट ओपिनियन लेते है और वो एक्सपर्ट उनका कोई दोस्त या पडोसी ही होता है । जितना होसके खुद ही समज कर इन्वेस्ट कर्रे या रियल एक्सपर्ट से ही एडवाइस ले। सुनिए सब की लेकिन करिये सिर्फ अपनी (३) विवेक बजाज का मन्ना है की अपना पोर्टफोलियो रोज़ ना चेक कर्रे जब मार्किट रेड में हो. क्यू के उससे  गलत डिसिशन लेसकते है।  लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के बार्रे में सोचिये  और इसीलिए रोज़ पोर्टफोलियो चेक ना कर्रे जब मार्किट डाउनहिल में हो तब (४) रचना रानाडे ने इंटरव्यू में बताया की कैसे आप गलत कंपनी मे इन्वेस्ट कारने बच सकते हो। इन्वेस्ट करने से पहले उस कंपनी के बार्रे में ये ३ जवाब जानलो पहला की क्या कंपनी का फ्यूचर ब्राइट है ? दूसरा – क्या मुझे लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करना है या शार्ट टर्म? और तीसरा क्या यह कंपनी पहले भी डाउन हिल सर्वाइव करचुक्की है ?इनसब का जवाब मिलने पर ही उस कमपनी में निवेश कर्रे (५) बाई  हाई ,सेल्ल लौ ( buy high sell low ) की साईकल में न फसे। स्टॉक सेवा के  इंटरव्यू में विवेक बजाज ने बताय की सेल्ल लौ बाई हाई की साइकिल में ना फसे ,इन्वेस्टर्स ये गलती करते हे की जब प्राइस स्टॉक का नीचे गिरता है तोह वह दर के शेयर्स बेच देते है  बोहोत ही सस्ते में और सोचते है की जब और गिरेगा नीच तब खरीदेंगे लेकिन उल्टा होजाता हे प्राइस फिर बढ़ जाते हे और फिरसे वोह महंगे में उससे ख़रीदलेते है or लोस्स होजाता हे इसलिए इससे बच्चे

तोह यह थी कुछ खास टिप्स विवेक बजाज और रचना रानाडे के तरफ से. इनके चैनल को ज़रूर देखिये और इन्हे  फोलो भी करे।  स्टॉक सेवा / मीडिया टर्मिनल।

द्वारा लिखित – अलीशा चंद्राकर स्टॉक सेवा/मीडिया टर्मिनल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: